बादाम खाने के फ़ायदे और सही तरीक़ा | Almonds Benefits

Graphic Designer +91 8954409090 (Sahib)

बादाम खाने के फ़ायदे और सही तरीक़ा | Almonds Benefits

दोस्तों बादाम एक सुपर फूड की श्रेणी में आता है इसलिए कहा जाता है की बादाम का नियमित रूप से इस्तेमाल करने से ये बहुत सारी बीमारियों से हमें बचाए रखता है। जो लोग भी बादाम का इस्तेमाल करना चाहते हैं उन्हें शुरुआत में इस बात की बिल्कुल भी जानकारी नहीं होती की बादाम को कब, कैसे और कितनी मात्रा में खाने से क्या फायदे और क्या नुकसान होते हैं। जिसकी वजह से बादाम का Daily इस्तेमाल करने के बावजूद उन्हें कभी भी सही फायदा मिल ही नहीं पता और कभी-कभी तो नुकसान भी भुगतना पड़ जाता है। इसलिए आज हम जानेंगे कि :-

  • एक दिन में कम से कम और ज्यादा से ज्यादा कितने बादाम खाए जा सकते है?
  • किन लोगों को बादाम का इस्तेमाल करना चाहिए और किन लोगों को बादाम नहीं इस्तेमाल करना चाहिए?
  • बादाम का सेवन कब करने से ज्यादा फायदा होता है, यानी बादाम खाने का सही समय क्या है?
  • बादाम को छिलके के साथ या छिलका उतार कर खाना चाहिए?
  • सूखा बादाम में और भीगे बादाम में क्या फर्क होता है?
  • जिन लोगों को वजन बढ़ाना है उन्हें बादाम का कब और कैसे सेवन करना चाहिए?
  • और वज़न घटाने के लिए बादाम खाने का सही तरीका क्या है?

बादाम खाने के फ़ायदे (Badam Khane Ke fayde)

इसके लिए हमें पहले ये जानना होगा की बादाम में क्या-क्या होता है और ये किन-किन प्रॉब्लम में फायदा पहुँचाता है। बादाम का सही मात्रा में और सही तरीके से इस्तेमाल करने से ये शरीर को detoxify करता है इम्यूनिटी पावर को बढ़ता है, और कोलेस्ट्रॉल, हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, हड्डियों में कमजोरी दिल की बीमारी और यहां तक की कैंसर जैसी बीमारियों से भी हमें बचाने के साथ साथ त्वचा बाल और दिमागी ताकत को भी बढ़ता है। बादाम में प्रोटीन, एंटी ऑक्सीडेंट, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, कॉपर, जिंक, बायोटिन, विटामिन E, मैग्नीशियम और हेल्दी फैट की मात्रा अधिक होती है. इसलिए दिन भर में कितना बादाम खाना चाहिए ये जानना बहुत जरूरी होता है।

एक दिन में कितने बादाम खाने चाहिए ?

आइए अब जानते है की दिन भर में कम से कम और ज्यादा से ज़्यादा कितना बादाम खाया जा सकता है। एक दिन में ज्यादा से ज्यादा एक मुट्ठी या 23 से 24 बादाम खाया जा सकता है। लेकिन याद रहे की ये बादाम खाने की मैक्सिमम लिमिट है। इसलिए जो लोग भी बादाम का डेली इस्तेमाल करना चाहते हैं उन्हें चार से पंच बादाम से ही शुरू करना चाहिए और कुछ दिन बाद उसकी क्वांटिटी 9 से 10 बादाम तक बधाई जा सकती है बादाम का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से शरीर में फाइबर की मात्रा बढ़ जाती है। जिससे पेट दर्द, अपचन और कब्ज की समस्या हो सकती है।

बादाम का इस्तेमाल ?

बादाम का इस्तेमाल बच्चे बूढ़े जवान कोई भी कर सकते हैं। लेकिन जिन लोगों को गुर्दे में पथरी या पित्ताशय की पथरी की प्रॉब्लम है उन्हें सिर्फ बादाम ही नहीं बल्कि कोई भी ड्राई फ्रूट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। क्योंकि बादाम और दूसरे ड्राइव फ्रूट्स में oxalate की मात्रा अधिक होती है, जो पथरी को दुगनी तेजी से बढ़ा सकता है।

भीगे बादाम खाए या सूखे ?

बादाम को भीगा कर खाना चाहिए या सूखा ये सवाल भी लोगों के मन में बना रहता है। दरअसल बादाम के छिलके में टैनिन पाया जाता है जो एंजाइम प्रतिरोधक होता है जिसकी वजह से इसे पचाने में हमारे पाचन तंत्र को बहुत मेहनत करनी पड़ती है। इसलिए बेहतर यही है की रात को चार से पंच बादाम को गुनगुने पानी में डालकर छोड़ दें और सुबह उसका छिलका उतार कर सेवन करें। ऐसा करने से ये पाचन शक्ति को बढ़ता है और इसमें मौजूद nutritions भी शरीर में आसानी से absorb हो जाते है। लेकिन अगर आपको डाइजेशन की प्रॉब्लम नहीं होती तो आप बादाम को भिगोने के बाद उसे छिलके के साथ भी खा सकते हैं।

बादाम खाने का सही समय ?

बादाम का इस्तेमाल सुबह दोपहर शाम कभी भी किया जा सकता है। लेकिन लेट नाइट इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। बादाम खाने का सही टाइम आप इसे किस फायदे के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं उस पर पूरी तरह से डिपेंड करता है। अगर आप इसे जनरल हेल्थ बेनिफिट के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको सुबह नाश्ते से पहले इसका सेवन करना चाहिए और फैट लॉस की डायट follow करने वाले लोगों को भी इसका सुबह नाश्ते से पहले ही इस्तेमाल करना चाहिए। क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है इसलिए सुबह इसके सेवन से जल्दी भूख भी नहीं लगती और शरीर में एनर्जी भी बनी रहती है।जो लोग फिजिकल एक्टिविटी या जिम करते हैं  वो लोग एक गिलास दूध में पंच से छह बादाम भिगोकर छिले हुए बादाम और 2-3  खजूर डालकर शेख बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। जो की एनर्जी रिकवरी में बहुत मदद करता है।

Leave a Comment